SMOG क्या है? SMOG से बचने के उपाय

 SMOG क्या है? SMOG से बचने के उपाय
स्मॉग शब्द स्मोक और फॉग से मिल कर बना है. जानिए क्या है स्मॉग, कैसे करें इससे बचाव.


गाड़ियों और फैकट्रियों से निकले धुएं में मौजूद राख, सल्फर, नाइट्रोजन, कार्बन डाई ऑक्साइड और अन्य खतरनाक गैसें जब कोहरे के संपर्क में आती हैं तो स्मॉग बनता है. स्माॅग का असर कई दिनों तक हवा में रहता है. तेज हवा चलने या बारिश के बाद ही स्मॉग का असर खत्म होता है.

स्मॉग से स्वास्थ्य पर असर 
-स्मॉग से फेफड़े और सांस से जुड़ी गंभीर बीमारी का खतरा.
-खांसी, जुकाम और सीने में दर्द की समस्या हो सकती है.
-दिल्ली में 10 में 4 बच्चे फेफड़ों से जुड़ी बीमारियों की चपेट में.
-2 साल के बड़े बच्चों में अस्थमा की बीमारी बढ़ी.
-15 साल से छोटे बच्चे ब्रोनकाइटिस बीमारी की चपेट में.
-स्किन संबंधी समस्या.
-बाल झड़ना ब्लड प्रेशर के मरीजों को ब्रेन स्ट्रोक आने का खतरा.
-अस्थमा के रोगियों को अटैक पड़ने का खतरा.

इन्हें रखना है खास ध्यान 
1. बच्चे: फिलहाल तो यह स्मॉग हर किसी के लिए खतरनाक है, लेकिन बच्चों को स्मॉग से सबसे अधिक खतरा है. बाहर खेले जाने वाले खेलों में हिस्सा लेने वाले बच्चों में इससे अस्थमा और अन्य सांस संबंधी समस्याएं होने की संभावना काफी अधिक है. बच्चों को स्मॉग से बचने के लिए मॉस्क पहनाएं. अगर वे घर से बाहर जा रहे हैं तो बिना मॉस्क के न जाएं.
2.सांस संबंधी बीमारी से ग्रसित लोग: अस्थमा या अन्य श्वास संबंधी समस्या से जूझ रहे लोगों को स्मॉग से बचाव की जरूरत है.अ स्थमा के रोगियों को स्मॉग से बचने के लिए यह बहुत जरूरी है कि वे जिस जगह पर रहते हैं वहां की हवा की गुणवत्ता के बारे में जानकारी रखें. अगर आपके इलाके की हवा अधिक प्रदूषित है तो घर के अंदर ही रहने की कोशिश करें और अगर बाहर जाना जरूरी है तो पूरी सतर्कता का पालन करें.

इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज
हमारे शरीर में कुछ भी गलत होता है तो किसी न किसी तरीके से शरीर जवाब देने लगता है. लेकिन कई बार हम लोग इसे हल्के में लेकर बदलते मौसम का असर मान लेते हैं. लेकिन ऐसी भूल बिल्कुल भी न करें. अगर आपको अचानक सांस लेने में तकलीफ हो रही हो, या फिर आंखों में किसी तरह की जलन हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें. इसे इग्नोर करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है. ऐसे मौसम में जितना हो सके डॉक्टर की सलाह लेते रहें.

मास्क का करें इस्तेमाल
अगर हम कहें कि ऐसे मौसम में किसी को भी बाहर निकलने की जरूरत नहीं है तो ऐसा बिल्कुल भी संभव नहीं होगा. सभी लोगों को अपने काम पर जाने के लिए बाहर निकलना ही होता है. लेकिन इस जहरीले स्मॉग से बचने के लिए आप मास्क का प्रयोग कर सकते हैं.

चश्मे का प्रयोग करें
आंखों की सुरक्षा के लिए भी आप चश्मे का प्रयोग कर सकते हैं.एंटी-इन्फ्लमेट्री आई ड्रॉप का उपयोग करें. डॉक्टरों का कहना है कि आंखों को साफ पानी से धोएं और उन्हें रगड़े या खुजलाएं नहीं.
 



loading...

Facebook