हंगामे और जश्न के बीच रिलीज़ हुई रजनीकांत अभिनीत 'कबाली’, टिकट न मिलने से फैन्स ने बेचे घर, फिल्म के लिए कंपनी ने दिया एक दिन का ऑफ

हंगामे और जश्न के बीच रिलीज़ हुई रजनीकांत अभिनीत  'कबाली’, टिकट न मिलने से फैन्स ने बेचे घर, फिल्म के लिए कंपनी ने दिया एक दिन का ऑफ
ये रजनीकांत का स्टारडम ही तो है जो उनके फैन्स के सर पर इस कदर सवार है कि रिलीज़ से पहले ही फिल्म ने 200 करोड़ का बिज़नेस कर लिया. दक्षिण में रजनीकांत को भगवान मानकर उनकी पूजा होती है. उनके नाम से मंदिर भी बनाए गए हैं. ऐसे भगवान की फ़िल्म रिलीज़ होना किसी प्रसाद से कम नहीं. सुपरस्टार रजनीकांत अभिनीत फिल्म 'कबाली' शुक्रवार को चेन्नई के एक थियेटर में सुबह 4 बजे ही रिलीज हो गई. फिल्म के लिए लोग रात से ही टिकट काउंटर पर आकर खड़े हो गए थे. 


रात भर इंतज़ार करने के बाद सुबह काउंटर खुलने पर टिकट की जगह फैन्स को मिली निराशा और मायूसी. क्यूंकि टिकट काउंटर पर थे ही नहीं. इससे फैन्स में निराशा बढ़ गई और इसने हंगामे का रूप ले लिया. इस बात से बौखलाए लोगों ने चेन्नई के कासी थियेटर में हंगामा किया, फिल्म के पोस्टर फाड़ डाले. फैन्स का आरोप है कि फिल्म के प्रोडूसर और थियेटर मालिक सारे टिकट कंपनियों को दे दिए, काउंटर पर टिकट मिले ही नहीं.

रजनी की लोकप्रियता इस कदर छाई है फिल्म के लिए लोगों ने अपने घर तक बेच दिए. कुछ तो घुटनों के बल चलने लगे और न जाने क्या-क्या. जहाँ चेन्नई में फैन्स ने पोस्टर को आग लगायी, वहीं मुंबई में थियेटर में लोगों ने फ़िल्म देखने से पहले नाच-गाकर जश्न मनाया. बंगलौर की एक कंपनी ने तो फिल्म के रिलीज़ वाले दिन सभी स्टाफ को ऑफ दे दिया.

आपको बता दें, कुछ दिन पहले रजनी की ये फ़िल्म लीक हो गई थी. लेकिन फिल्म से जुड़े लोगों ने इसे कोरी अफवाह बता दिया था. पा. रंजीत द्वारा निर्देशित 'कबाली' में राधिका आप्टे, धंसिका, दिनेश, कलायरसन, ऋतविका और विंस्टन चाओ सहित कई सितारे हैं. 'कबाली' में रजनीकांत एक डॉन की भूमिका निभा रहे हैं, जो मलेशिया में तमिल लोगों के लिए समान वेतन की लड़ाई लड़ रहा है.



loading...

Facebook