Movie Review: शादी में जरूर आना

Movie Review: शादी में जरूर आना
प्रोड्यूसर: विनोद बच्चन, मंजू बच्चन और कलीम खान
डायरेक्टर: रत्ना सिन्हा
स्टार कास्ट: राजकुमार राव और कीर्ति खरबंदा
म्यूजिक डायरेक्टर : आनंद राज आनंद और आर्को 
रेटिंग **


आइये जानते है फिल्म का पूरा रिव्यू.

कहानी: कानपुर  में रहने वाले मिश्रा परिवार अपने बेटे सतेंद्र (राजकुमार राव) की शादी के लिए लड़की ढूंढ रहे होते हैं. इसी दौरान उन्हें शुक्ला परिवार की बेटी कीर्ति खरबंदा (आरती) पसंद आती है. जिससे मिलने के लिए वे अपने बेटे को उसके कॉलेज भेजते हैं. वहां हिचकिचाते हुए सत्तू और आरती की मुलाकात होती है. ढेर सारी बातें होती हैं. दोनों को लगता है जैसे एक दूसरे के लिए ही बने हैं. मुलाकातों का दौर बढ़ने लगता है. सबकी मर्जी से शादी तय हो जाती है. हालांकि आरती के परिवार के पास दहेज देने के लिए उतने रूपए नहीं होते लेकिन फिर वे अपनी बेटी की खुशी के लिए शादी पक्की कर देते हैं. आरती पढ़ने में बहुत होशियार होती है. वहीं सत्तू यानी सतेंद्र कलर्क की सरकारी नौकरी कर रहा होता है. आरती का सपना होता है कि वो ऑफिसर बनें और शादी के बाद भी नौकरी करे. सत्तू इस बात के लिए तैयार भी हो जाता है. लेकिन सत्तू की मां का कहना है की मिश्रा परिवार की बहू नौकरी नहीं कर सकती. खैर, शादी की रात आती है. सत्तू मिश्रा परिवार की बहू को लिवाने के लिए दूसरे शहर चल पड़ता है. लेकिन उसी दिन आरती का सिविल सर्विस का रिजल्ट आ जाता है. आरती का मेन्स क्लियर हो जाता है. उसे समझ नहीं आता क्या करे. वो शादी छोड़कर भाग जाती है. सत्तू और उसका परिवार बेइज्जत होकर वापस बारात लेकर लौट आता है. कुछ साल यूं ही बीत जाते हैं. लेकिन उसके बाद आरती को घूस के आरोप में जेल भेजने की नौबत आ जाती है. तभी आता है कहानी में ट्विस्ट. ज्यादा बताकर हम आपके फिल्म देखने का मजा खराब नहीं करेंगे.

फिल्म का म्यूजिक: फिल्म का म्यूजिक काफी अच्छा है. इसमें पल्लो लटके गाने का रीमेक भी आपको देखने को मिलेगा. फिल्म में कानपुर शहर का फ्लेवर है. हंसाने वाला ह्यूमर है. शादी के बैकग्राउंड में बजने वाले गाने भी मजेदार हैं.

अभिनय: अगर फिल्म में एक्टिंग की बात करें तो, शादी में जरूर आना फिल्म में राजकुमार राव ने काफी दमदार एक्टिंग की है. राजकुमार दोनों ही किरदारों (लवर और ऑफिसर) में काफी जमते हैं. इसके साथ ही कीर्ति खरबंदा ने भी अच्छी एक्टिंग की है और वो अपने किरदार को निभाने में सक्षम रही हैं. इसके साथ ही फिल्म के बाकी को एक्टर्स ने भी काफी अच्छी एक्टिंग की है.

निर्देशन: शादी में जरूर आना फिल्म को रत्ना सिन्हा ने डायरेक्ट किया है. बता दें बतौर डायरेक्टर ये उनकी पहली फिल्म है. फिल्म में कई मुद्दे उठाए गए हैं जिनमें दहेज प्रथा, लड़कियों की शिक्षा और जॉब भी शामिल है. लेकिन इन सामाजिक मुद्दों के साथ फिल्म आगे बढ़ने में कामयाब नहीं हो पाती है. फिल्म के क्लाइमेक्स पर और ज्यादा काम किया जा सकता था.

अगर आपको राजकुमार राव और कीर्ति खरबंदा को पसंद करते हैं तो आप शादी में जरूर आना फिल्म देख सकते हैं. सामाजिक मुद्दों पर हल्की फुल्की फिल्म है. लेकिन फिल्म आपको सरप्राइज नहीं करेगी. हालांकि एक बार देखी जा सकती है फिल्म.



loading...
 Movie Review: शेफ

Movie Review: शेफ

 Movie Review: सिमरन

Movie Review: सिमरन

Facebook