Movie Review: पार्च्ड

Movie Review: पार्च्ड
प्रोड्यूसर : अजय देवगन
डायरेक्टर : लीना यादव
स्टार कास्ट : राधिका आप्टे, तनिष्ठा चटर्जी , सुरवीन चावला, लहर खान, आदिल हुसैन
म्यूजिक डायरेक्टर : हितेश सोनिक
रेटिंग ***


अजय देवगन के प्रोडक्शन में बनी लीना यादव की फिल्म पार्चड आज रिलीज़ हो चुकी है। ये फिल्म दुनिया भर के कई फिल्म फेस्टिवल्स में दिखाई जा चुकी है और कई अवार्ड्स भी जीते हैं। फिल्म को दुनिया भर के लोगों ने पसंद किया है। इस फिल्म की चर्चा इंडिया में कम ही थी लेकिन एक्ट्रेस राधिका आप्टे और आदिल हुसैन के बीच फिल्माए गए सेक्स सीन के लीक होने के बाद फिल्म खूब चर्चा में आगई। 

कहानी
यह कहानी कच्छ के इलाके में बेस्ड है जहां तीन सहेलियां रानी (तनिष्ठा चटर्जी) , लज्जो (राधिका आप्टे) और बिजली (सुरवीन चावला) रहते हैं. रानी और लज्जो एक साथ गाँव में ही लघु उद्योग में काम करती हैं और बिजली गाँव में नाच गाना करके गुजर बसर करती है. रानी की लाइफ में हस्बैंड की एक्सीडेंट की वजह से मौत हो गयी थी, और सिर्फ उसके घर में एक बूढी माँ और बेटा गुलाब रहता है. वहीँ लज्जो का पति मनोज ये सोचता है की उसकी वाइफ एक बाँझ है , जो बच्चे पैदा नहीं कर पाती. रानी अपने बेटे गुलाब की शादी पास के गाँव की लड़की जानकी(लहर खान ) से कराती है . कहानी में कई सारे उतार चढ़ाव तब आते हैं जब रानी अपनी दोनों दोस्तों के लज्जो और बिजली के साथ बातचीत करती है. गुलाब को जानकी पसंद नहीं आती, गाँव के मनचलों का भी एक अलग रवैया होता है. आखिरकार इस कहानी को क्या अंजाम मिलता है , ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी.

फिल्म का म्यूजिक
फिल्म का संगीत अच्छा है जिसमें कहानी का फ्लेवर हितेश सोनिक ने अच्छा परोसा है.

फिल्म की कहानी दिखाती है की कैसे आज भी हमारे देश में महिलाओं को सिर्फ सेक्स की मशीन और घर की नौकरानी समझते हैं। फिल्म में एक सीन है जब एक लड़की अपने मायके लौट आती है और अपनी माँ को बताती है की उसका देवर और उसका ससुर उसका बलात्कार करते हैं लेकिन इसके बावजूद उसकी माँ उसे अपने ससुराल लौटने को कहती है। हमारे देश में महिलाओं के साथ ऐसे ऐसे अत्याचार हो रहें हैं जिसके बारे में हम शहर में रहने वालों को कोई अंदाज़ा भी नहीं है। ये फिल्म उन्हें मुद्दों पर रौशनी डालती है।

तनिष्ठा चटर्जी ने माँ, सास और विधवा महिला का किरदार जबरदस्त निभाया है, राधिका आप्टे ने भी लज्जो के किरदार को सहज रूप दिया है जिससे आप कनेक्ट कर पाते हैं, सुरवीन चावला भी आपको सरप्राईज करती हैं , जो की रानी और लज्जो के किरदार के लिए एक अहम कड़ी के रूप में सामने आती हैं. इसके साथ ही लहर खान , आदिल हुसैन और बाकी एक्टर्स का काम भी अच्छा है.

लीना यादव ने अपनी फिल्म से लोगों को झकझोर कर रख दिया है। उनके डायरेक्शन में दम है। अगर आपको गहन मुद्दों पर आधारित फिल्में और बेहतरीन एक्टिंग से लैश फिल्में पसंद हैं, तो इस फिल्म को ज़रूर ज़रूर देखें।
 



loading...
 Movie Review: राजी

Movie Review: राजी

 Movie Review: बागी 2

Movie Review: बागी 2

 Movie Review: हिचकी

Movie Review: हिचकी

 Movie Review: रेड

Movie Review: रेड

Facebook