जर्मनी: शादी के होते हैं अजीब से रस्मों-रिवाज, दूल्हा-दुल्हन काटते हैं लकड़ी

 जर्मनी: शादी के होते हैं अजीब से रस्मों-रिवाज, दूल्हा-दुल्हन काटते हैं लकड़ी
शादी के समय अलग-अलग देश में अलग-अलग परंपरा होती हैं. लेकिन सबसे अजीब परंपरा है जर्मनी में. यहाँ कई तरह के अजीब से रस्मों रिवाज अपनाएँ जाते हैं. आईये जानते हैं इनके बारे में : 


यहाँ शादी के बाद मिटटी के बर्तन तोड़े जाते हैं. शादी की पार्टी शुरू होने से पहले चीनी मिट्टी के बर्तन बनाते हैं, जिसे बाद में सब मिलकर पांव से तोड़ते हैं. अगले दिन-दूल्हा-दूल्हन मिलकर सफाई करते हैं. 

आपने शादी से पहले होने वाली पार्टी के बारे में तो सुना होगा. जिसमें दूल्हा-दुल्हन आखिरी बार अपनी आज़ादी एन्जॉय करते हैं. पर जर्मनी में शादी के बाद बैचलर पार्टी का आयोजन होता है. 

इसके अलावा यहां शादी से पहले दूल्हा-दुल्हन को कंडोम बेचना पड़ता है वो भी किसी ट्राम, बस या गली में.

यहाँ शादी के दिन फैमिली मिलकर कई गेम्स का आयोजन करती है. यह दिन खुशियोंभरा बनाने के लिए ये सारे खेल खेले जाते हैं. सबसे अजीबोगरीब खेल होता है लकड़ी काटने वाला खेल जिसे दूल्हा-दुल्हन मिलकर खेलते हैं.

इसके अलावा शादी वेन्यू में जाते समय परिवार के सभी लोगों को हार्न बजाना जाना पड़ता है. वह रास्ते में अपनी गाड़ियों के हॉर्न बजाते हुए जाते हैं. वहीं अगर अनजान लोग भी इसमें शामिल होना चाहें तो वह अपनी गाड़ियों के हॉर्न बजाकर खुशी में शामिल हो सकते हैं. जर्मनी में रिवाज है कि शादी के बाद लड़के के दोस्तों को दुल्हन का अपहरण करना पड़ता है और दूल्हा उसे ढूंढता है. इस बीच लड़के के दोस्त दुल्हन को लेकर एक बार से दूसरे बार घूमते रहते हैं. इसमें दुल्हे के सब्र का इम्तिहान लिया जाता है. 

शादी के बाद दुल्हन के चेहरे से नकाब उतार कर दोनों उसपर डांस करते हैं. जर्मनी के कई देशों में तो शादी में आएं मेहमान उस नकाब पर पैसे भी उछालते हैं.

सुहागरत से पहले दूल्हा-दुल्हन के कमरे को गुब्बारों से भर दिया जाता है. अपने अच्छे और सुखी वैवाहिक जीवन के लिए दूल्हा-दूल्हन को वो सारे गुब्बारे फोड़ने होते हैं. इनमें से एक भी गुब्बारा गतली से भी छूटना अशुभ माना जाता है.

वैसे पूरी दुनिया में जर्मन को थोड़ा अड़ियल और अपने में सीमित रहने वाला समझा जाता है लेकिन इन रिवाजों को पढ़कर उनके मिलनसार होने के बारे में भी पता चलता है. आपको एक और बात बता दें, यहाँ शादी में कोई भी कहीं से भी आया हुआ शामिल हो सकता है. 



loading...

Facebook