GST रिस्ट्रक्चरिंग की वजह से FMCG सेक्टर में आएगी तेजी, ये 5 स्‍टॉक्‍स दे सकते हैं अच्छा रिटर्न

 GST रिस्ट्रक्चरिंग की वजह से FMCG सेक्टर में आएगी तेजी, ये 5 स्‍टॉक्‍स दे सकते हैं अच्छा रिटर्न
गवर्नमेंट ने जीएसटी में आने वाले कई प्रोडक्ट के रेट की रिस्ट्रक्चरिंग बड़े पैमाने पर कर दी है. 211 प्रोडक्ट्स पर GST की दरें घटाई गई हैं. एक्सपर्ट्स का कहना है कि GST के बाद कई सेक्टर में रिकवरी आरंभ हुई है, वहीं अब GST की रीपैकेजिंग से एफएमसीजी सेक्टर को बड़ा बूस्ट मिलने वाला है. अधिक कंजम्पशन वाले आइटम्स पर कर की दरें कम की गई हैं, जिसका लाभ एफएमसीजी सेक्टर को मिलना है. यहां हम पांच ऐसे स्टॉक्स के बारे में बता रहे हैं, जिनमें जीएसटी इंपैक्ट से अच्छा रिटर्न मिल सकता है. 


HUL लक्ष्य 1400 

जीएसटी के नए रेट का सबसे अधिक फायदा एचयूएल को हो सकता है. शैंपू, डिटर्जेंट, पर्सनल केयर प्रोडक्ट सहित कंपनी के पास बड़ी प्रोडक्ट्स की रेंज है, जिनपर कर कम किया गया है. ऐसे में कंपनी की सेल्स आगे बढ़ सकती है. GST के असर से कंपनी में रिकवरी के संकेत हैं. साउथ और वेस्ट रीजन में होलसेल पहले तरह नॉर्मल हुआ है. रूरल एरिया से डिमांड अच्छी रहने की उम्मीद है. रॉ मटेरियल की कीमतों में अधिक कुछ इजाफा नहीं हुआ है. तीसरे क्वार्टर के रिजल्ट में रिकवरी की उम्मीद है. सचिन सर्वदे ने शेयर के लिए 1400 रुपए का टारगेट तय किया है. ब्रोकरेज हाउस एक्सिस डायरेक्ट ने भी शेयर में निवेश की सलाह दी है.

JHS स्वेन्डगार्ड लैब लक्ष्य 90 

विवेक मित्तल ने जेएचएस स्वेनगार्ड में 90 रुपए के टारगेट के साथ निवेश की सलाह दी है. कंपनी का मौजूदा शेयर प्राइस 75 रुपए है. जेएचएस स्वेन्डगार्ड लैब डेंटल व ओरल हेल्थ केयर कंपनी है. कंपनी कई तरह के एफएमसीजी प्रोडक्ट बनाती है. इनमें टूथ पेस्ट, टूथ ब्रश से लेकर पर्सनल केयर व हाइजीन प्रोडक्ट बनाती है. इनमें टूथ पेस्ट, टूथ ब्रश से लेकर पर्सनल केयर व हाइजीन प्रोडक्ट भी शामिल हैं. GST रेट के रीपैकेजिंग का फायदा कंपनी को मिलेगा.

मैरिको लक्ष्य 380 

मैरिको पर्सनल केयर सेक्टर में लार्जकैप कंपनी है. कंपनी हेयर ऑयल, एडिबल ऑयल और पर्सग्‍नल केयर प्रोडक्ट के साथ कुछ अन्य प्रोडक्ट बनाती है. कंपनी का फोकस इनोवेशन और नई लॉन्चिंग पर है. कुछ प्रोडक्ट की कीमतें हाल ही में बढ़ी हैं. कंपनी ने दूसरी तिमाही में शानदार नतीजे दिए हैं. डोमेस्टिक मार्केट में ग्रोथ मजबूत है, साथ ही इंटरनेशनल बिजनेस बढ़ाने पर भी टॉप मैनेजमेंट काम कर रहा है. जीएसटी लागू होने से कंपनी की आय बढ़ने का अनुमान है. वहीं, GST के नए टैक्स स्लैब का फायदा भी कंपनी को मिलेगा. बेहतर मानसून के बाद खासतौर से फेस्टिव सीजन में डिमांड बढ़ने से कंपनी को फायदा होगा. वहीं, ब्रोकरेज हाउस रिलायंस सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 351 रुपए का टारगेट तय किया है. बोनांजा पोर्टफोलियो के पुनीत किनरा का शेयर के लिए अगला लक्ष्‍य 380 रुपए का है. 

ईमामी लक्ष्य 1435 

जीएसटी कर रेट में बदलाव का फायदा ईमामी को भी मिलेगा. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर के लिए 1435 रुपए का लक्ष्‍य तय किया है. कंपनी का इंटरनेशनल बिजनेस सेल्स बढ़ रहा है. प्रोडक्ट कटेगिरी में भी बेहतर ग्रोथ है. नई लॉन्चिंग पर जोर है. कंपनी की मार्केटिंग स्ट्रॉन्ग है, जिसका फायदा आगे मिलेगा. डायरेक्ट डिस्ट्रीब्यूशन बढ़ाने पर कंपनी का फोकस है. नए इनोवेशन कर रही है. कंपनी की ग्रामीण इलाकों पर पकड़ मजबूत है. शेयर अभी अच्छे वैल्युएशन पर है. लंबी अवधि के लिए निवेश किया जा सकता है.

नेसले लक्ष्य 8500 

नेसले चॉकलेट बनाने वाली लीडिंग कंपनियों में शामिल है. वहीं नेसले की पैरंट कंपनी शैंपू बिजनेस में है. इसके अलावा भी कंपनी कई तरह के प्रोडक्ट बनाती है, जिनका डेलीयूज है. जीएसटी की नई दरों का लाभ कंपनी को मिलेगा. नेसले इंडिया का कहना है कि GST रेट कट के हिसाब से कीमतों का रीवीजन किया जा रहा है. कीमतें घटने का फायदा जल्द कंज्यूमर्स को मिलेगा. जीएसटी डी-स्टॉकिंग का असर कम हो रहा है. आगे डिमांड मजबूत रहने की उम्मीद है. साल 2017 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 23 फीसदी बढ़कर 343 करोड़ हो गया है. कंपनी की ओवरसेल्स के अलावा डोमेस्टिक सेल्स भी 3.7 प्रतिशत बढ़ी है. विवेक मित्तल ने शेयर में 8500 रुपए का टारगेट रखा है. 



loading...

Facebook